Crime Sach News

Just another WordPress site

अन्य राज्यों से आये ईट मजदूर पलायन को मजबूर

1 min read

सिंदुरिया(महराजगंज):-एक तरफ जहां पूरा देश कोरोना जैसी महामारी का दंश झेल रहा है जिसको लेकर प्रधानमंत्री ने देश में लॉक डाउन 3 मई तक लगा दिया है।वहीं शासन ने सभी ग्राम पंचायतों व संस्थानों, इट भट्टो आदि पर कार्य कर रहे मजदूरों को किसी भी प्रकार की समस्या न हो जिससे कोई भी मजदूर भूखा न रहें अगर शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।वहीँ विकास खंड मिठौरा क्षेत्र के ग्राम पंचायत परसा चक गोबरहि में स्थित एक ईंट भठ्ठे पर काम करने वाले मजदूर रविवार को दोपहर 1:00बजे ईट भट्ठे से पलायन कर रहे थे।इन मजदूरों का आरोप है कि ईट भट्ठा मालिक हम सबको खाद्य सामग्री नही दिया जा रहा है जिससे हम सब भूखों रहने के लिए मजबूर है । ग्राम सभा परसा चक गोबरही में स्थित ईट उधोग पर अन्य प्रदेशों आये मजदूर लॉक डाउन के दौरान पलायन कर रहे। मजदूरों के पलायन की सूचना ग्रामीणों ने यूपी 112 को दी। जानकारी प्राप्त होते ही पीआरवी सिंदुरिया 2556 और पीआरवी चिउठहा 2586 पहुंच कर मजदूरों को रोकने का हर सम्भव प्रयास कर रही थी। मजदूरों ने बताया कि हैम सब 20 की संख्या में है और हम सब छत्तीसगढ़ राज्य से आये हैं और हम सब कच्चे ईट बनाने कार्य करते हैं हम अपने परिवार के साथ ईट भट्ठों पर रहकर अपनी जीविका चलाते हैं।मजदूरों ने बताया कि हम सभी जोखू लाल कसौधन के ईट भट्ठे पर रह कर काम करते हैं लेकिन भट्टा मालिक तीन दिनों से हम सबको हप्ता नही दिया जा रहा। और 15 दिनों से काम भी नही दिया जा रहा है। जिसकी वजह से खाद्य सामग्री नही मिल पा रही है और हम सब भूखों रहने को मजबूर हैं और आर्थिक स्थिति खराब होते देख कर हम सभी अपने प्रदेश छत्तीसगढ़ के लिये पलायन कर रहे हैं।पीआरवी 112 के द्वारा काफी समझाने के बाद ये सभी मजदूर रुके।

विज्ञापन प्रभारी महराजगंज-रिंकू गुप्ता की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2020 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042