Crime Sach News

Just another WordPress site

जिला योजना समिति द्वारा 02 अरब 49 करोड़ 18 लाख का हुआ प्रस्ता

1 min read

श्रावस्ती 01 मार्च, 2020/सू0वि0/भारत सरकार एवं प्रदेश सरकार जन-जन के उत्थान हेतु प्रतिबद्ध है इसलिए जनता की आवश्यकताओं के अनुरूप तमाम शासन के उच्च प्राथमिकता वाले कार्य कराये जा रहे हैं सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों का दायित्व बनता है कि अपना दायित्व समझ कर कार्य को पूरी पारदर्शिता के साथ पूरा करें।
उक्त विचार कलेक्ट्रेट सभागार में जिला योजना समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए मा0 राज्य मंत्री खाद्य एवं रसद तथा नागरिक आपूर्ति, श्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह ’’धुन्नी सिंह’’ ने व्यक्त किया।
बैठक का संचालन जिलाधिकारी यशु रूस्तगी ने किया है। उन्होने बताया कि विŸाीय वर्ष 2020-21 में जनपद की जिला योजना हेतु कुल रु0 24918.00 लाख का परिव्यय शासन द्वारा प्रस्तावित किया गया है। उन्होने बताया कि प्रस्तावित परिव्यय के सापेक्ष विभागवार विवरण निम्न है। कृषि विभाग की मात्र एक एन0एम0ओ0ओ0पी0 योजना जिला योजनान्तर्गत संचालित है, वर्ष 2020-21 में कुल 32.00 लाख रू0 का प्रस्ताव रखा गया है, जिसमे से केन्द्रांश के रूप में 19.20 लाख रू0 तथा राज्यांश के रूप मे कुल 12.80 लाख रू0 प्रस्तावित है। जिसमें एस0सी0पी0 8.00 लाख रू0 प्रस्तावित किया गया है। उक्त योजना केन्द्र पुरोनिधानित है। इसके  अन्तर्गत बीज ग्राम योजना में प्रमाणित बीज वितरण फसलवार, खण्ड प्रदर्शन फसलवार-खरीफ, रबी, जायद, आई0पी0एम0 प्रदर्शन फसलवार/परिणाम, बीजोपचार फसलवार, सूक्ष्म तत्व फसलवार, जिप्सम वितरण फसलवार, स्प्रिंकलर सेट वितरण, कृषक प्रशिक्षण फसलवार, कृषि रक्षा रसायन, कृषि रक्षा उपकरण वितरण, रायजोबियम/पी0एस0बी0 वितरण, प्रसार अधिकारी प्रशिक्षण, जी0आई0बखारी एवं उन्नत सीड कृषि यन्त्र वितरण आदि पर व्यय किया जाना प्रस्तावित है। लघु एवं सीमांत कृषकों को आर्थिक सहायता (एस.एम.एफ.पी.) की संचालित योजना निःशुल्क बोरिंग पर वर्ष 2020-21 में रू0 480.00 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। उक्त धनराशि से लघु सीमान्त कृषकों हेतु 6000 निःशुल्क बोरिंग कराया जायेगा, जिसमें 100.00 लाख रू0 अनुसूचित जाति के लाभार्थियों को लाभान्वित करने हेतु 1000 बोरिंग का लक्ष्य प्रस्तावित किया गया है। पशुपालन विभाग द्वारा वर्ष 2020-21 में इस विभाग की कुल 02 योजनाओं के लिए कुल रू 195.35 लाख का प्रस्ताव किया गया है जिसमें सेे रू0 81.14 लाख एस.सी.पी. योजनान्तर्गत प्रस्तावित है। प्रस्तावित धनराशि से 13 पशु चिकित्सालय एवं 03 पशु सेवा केन्द्र हेतु पशुओं के लिए औषधि रसायन, सामग्री आपूर्ति तथा कृत्रिम गर्भाधान केन्द्रों पर तरल नत्रजन एवं आवश्यक सामग्री की आपूर्ति पर व्यय एवं ग्राम पंचायत गेेहुआंभारी में निर्माणाधीन स्थायी गौशाला में बाउन्ड्रीवाल का निर्माण किये जाने का प्रस्ताव है। दुग्ध विकास विभाग वर्ष 2020-21 में इस विभाग की कुल 03 योजनाओं के लिए कुल रू 61.74 लाख का प्रस्ताव किया गया है जिसमें सेे रू0 14.39 लाख एस.सी.पी. योजनान्तर्गत प्रस्तावित हैै। प्रस्तावित धनराशि से 20 दुग्ध समितियों का सुदृढी़करण एवं विस्तार कार्य किया जायेगा। इसके अतिरिक्त गाय एवं भैंसों के बांझपन निवारण हेतु पर्यवेक्षण प्रशिक्षण, टीकाकरण, समितियों का गठन एवं पशुओं के स्वास्थ्य उपचार तथा पशुपालकों के प्रशिक्षण पर व्यय किया जायेेगा। सहकारिता विभाग द्वारा वर्ष 2020-21 में इस विभाग कंे अन्तर्गत 05 सहकारी समितियों, तिलकपुर, शाहपुरकला, विकास खण्ड हरिहरपुररानी एवं धुसवा, परेवपुर, विकास खण्ड गिलौला तथा सिरसिया, विकास खण्ड सिरसिया हेतु पूर्व में निर्मित जर्जर गोदामों की मरम्मत/नवनिर्माण हेतुं रू0 21.00 लाख का परिव्यय प्रस्तावित किया गया है। वन विभाग द्वारा वर्ष 2020-21 में कुल 03 योजनाओं के लिए कुल रू 1640.26 लाख का प्रस्ताव किया गया है जिसमें सेे रू0 110.54 लाख एस.सी.पी. योजनान्तर्गत प्रस्तावित हैै। प्रस्तावित धनराशि में ग्रामीण क्षेत्रों में सामाजिक वानिकी योजना की कुल रु0 1310.64 लाख से 3285.00 हे0 में वृक्षारोपण कार्य, वृक्षारोपण अनुरक्षण, पौध उगान का कार्य व 3000 ब्रिकगार्ड निर्माण वृक्षारोपण का कार्य, रू0100.00 लाख से आवासीय परिसर भिनगा में एक भवन निर्माण तथा शहरी क्षेत्र की कुल रु0 229.62 लाख से 7000 ब्रिकगार्ड निर्माण वृक्षारोपण का कार्य तथा 1020 वृक्षारोपण अनुरक्षण का कार्य कराया जाना प्रस्तावित है। ग्राम्य विकास के विशेष कार्यक्रम के तहत वर्ष 2020-21 में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत 12000 स्वयं सहायता समूह के लाभार्थियों लिए कुल रू 1114.03 लाख का प्रस्ताव किया गया है जिसमें सेे रू0 557.02 लाख एस.सी.पी. तथा रू0 55.70 लाख टी.एस.पी. योजनान्तर्गत प्रस्तावित हैै। प्रस्तावित धनराशि में राज्यांश में 445.61 लाख रू0 एवं केन्द्रांश मे 668.42 लाख है। रोजगार कार्यक्रम के तहत वर्ष 2020-21 में रू0 6814.02 लाख के परिव्यय का प्रस्ताव किया गया है। प्रस्तावित धनराशि में राज्यांश रु0 681.4 लाख एवं केन्द्रांश मे रु0 6132.62 लाख का परिव्यय रखा गया है। प्रस्तावित धनराशि से 2250318 मानव दिवस का सृजन किया जायेगा। पंचायती राज विभाग द्वारा कुल रू 1349.20 लाख, निजी लघु सिंचाई द्वारा
रू 95.65 लाख राजकीय लघु सिंचाई द्वारा रु0 95.51 लाख, अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत द्वारा रु0 7.10 लाख, सड़क एवं पुल द्वारा 3190.42 लाख, पर्यावरण द्वारा रु0 10.00 लाख सहित पर्यटन, प्राथमिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, उच्च शिक्षाए प्राविधिक शिक्षा, प्रादेशिक विकास दल, ऐलोपैथी, अस्पतालों/औषधालयों में विशिष्ट सुविधायें, परिवार कल्याण, होम्योपैथी, आयुर्वेद, यूनानी, पूल्ड आवास, ग्रामीण आवास, नगर विकास, अनुसूचित जाति कल्याण, पिछड़ी जाति कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, समाज कल्याण-सामान्य जाति सहित अन्य विभागोें ने वित्तीय वर्ष 2020-21 हेतु प्रस्ताव दिया है।
मुख्य विकास अधिकारी अवनीश राय ने अए हुए अतिथियों एवं जनप्रतिनिधिगणों का धन्यवाद ज्ञापित किया।
इस अवसर पर विधायक राम फेरन पाण्डेय, विधायक असलम राईनी, जिला पंचायत अध्यक्ष साक्षी कैराती, जिलाध्यक्ष संजय कैराती, शंकर दयाल पाण्डेय, दिवाकर शुक्ल, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रमन सिंह, अपर पुलिस बी0सी0 दूबे, अपर जिलाधिकारी योगानन्द पाण्डेय, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 ए0पी0 भार्गव, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 उदय नाथ, डा0 मुकेश मातन हेलिया सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं अधिकारीगण उपस्थित रहे।

श्रावस्ती से रिपोर्टर आरिफ खान के साथ नफीस अहमद खान की रिपोर्ट

क्राईम सच न्यूज़ चैनल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright ©2020 All rights reserved | For Website Designing and Development call Us:+91 7080822042