Crime Sach News

Just another WordPress site

मदरसा शिक्षकों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही सरकार

1 min read
सिंदुरिया(महराजगंज):-इस्लामिक मदरसा शिक्षक संघ का वृहस्पतिवार को जिला मुख्यालय  स्थित धरना स्थल पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा जारी मिनट कॉपी/बजट काफी पर विस्तार से चर्चा किया गया।संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तसौवर हुसैन ने कहा केन्द्र व राज्य सरकार मदरसा
 आधुनिकीकरण शिक्षकों के साथ सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है।सरकार की गलत नीति के कारण प्रदेश के डेढ़ दर्जन अध्यापको की असमय मौत हो चुकी है।केंद्र  सरकार द्वारा 40 महीने से मानदेय भुगतान नही कर रही है जिससे सभी मदरसा अधुनिककरण अध्यापक भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं। मदरसा आधुनिकीकरण योजना प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई की सरकार के द्वारा मदरसों की महत्वाकांक्षी योजना के तहत शुरू की गई थी। जो सरकार की गलत नीतियों के कारण गर्त में जा रही हैं। राज्य सरकार से 3000 का भुगतान ऊंट के मुंह में जीरा है। बढ़ती महंगाई से इस पैसे से कुछ होने वाला नहीं है। महाराजगंज जनपद में 160  हिंदू अध्यापक मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक मदरसो में पढ़ाते है। दशहरा, दिवाली का त्योहार विना मानदेय के समाप्त हो गया। बेसिक शिक्षा विभाग से संबंधित मदरसे का भुगतान  जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के द्वारा बिना किसी आदेश के बेसिक शिक्षा से संबंधित मदरसो के शिक्षकों का मानदेय रोक रखा है जिसका कोई आदेश नहीं है। मदरसा आधुनिकीकरण अध्यापकों के साथ सौतेला  व्यवहार किया गया तो प्रदेश भर के मदरसा आधुनिकीकरण अध्यापक भूख हड़ताल करेंगे। दिसंबर महीने में जंतर मंतर पर विशाल धरना प्रदर्शन का  प्रस्ताव पास किया गया। बैठक का संचालन इबरार अंसारी  ने किया। इस अवसर पर जिला उपाध्यक्ष सरवरे आलम, नागेंद्र गौड़, शिव प्रकाश अग्रहरि, वसीम आलम,शाकिर अली,
ओवैदुल्लाह, विपिन जायसवाल, कृष्णा भारती, समीउद्दीन, आशुतोष पांडेय, अली मोहम्मद, हारून, सुरेंद्र, विक्रम यादव, मोहम्मद फैज, महबूब अली, सुशील, रामचंद्र सहनी, प्रमोद, जियाउद्दीन आदि मदरसा  आधुनिकीकरण अध्यापक उपस्थित रहे।
सिंदुरिया से – रिंकू गुप्ता की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories

You may have missed