Crime Sach News

Just another WordPress site

*प्रशासन द्वारा अलर्ट के बावजूद भी नही थम रही तस्करी का खेल*

1 min read

ठूठीबारी महराजगंज :-
भारत नेपाल सीमा पुलिस व जवानों द्वारा इतनी पहरा के वावजूद भी तस्कर तस्करी करने में बेख़ौफ़ है । दिन-प्रतिदिन तस्कर तस्करी करने में लीन होते जा रहे है।
लेकिन प्रशासन भी तस्करी के सिलसिले को देखकर मौन है ।और तस्करो की रवैया कम होने का नाम नही ले रही है। सड़को पर तस्कर तस्करी करते खुलेआम देखने को मिल रहे है ।
तस्कर मनबढ़ हरकत से बाज ही नही आ रहे है जो काफी सुर्खियों में है ।
बेख़ौफ़ तस्कर काली मिर्च , कनाडियन मटर, खाद आदि समानो की तस्करी जोरो पर कर रहे है । पुलिस व एसएसबी जवानों के द्वारा चौबीस घंटे के पहरा करने के वावजूद भी तस्कर अपना पैर कैसे पसार रही है । पुलिस व जवान के द्वारा तस्कर के तस्करी समानो के पकड़े जाने पर भी कोई फर्क पड़ने वाला नही है ।
पुरुषो के साथ – साथ महिलाए भी इन तस्करी की हरकत से बाज नही आ रही है । नेपाली शराबो की कारोबार जोरो पर है । आखिर कब तक तस्करी का काला कारोबार चलता रहेगा ।


क्या है इन तस्करी का मकसद

तस्कर तस्करी को अपना धंधा बना लिए है जबकी तस्करी का सिलसिला चौबिस घंटा चल रही है। जवानो द्वारा तस्करी का समान पकड़े जाने का भी कोई परवाह नही है ।

तस्करी के सुर्ख़ियो में आने वाले तस्करी के समान

• कालीमिर्च, कनाडियन मटर , खाद , इलाइची आदि ।
इन सब की चीजों की तस्करी जोरो पर चल रही है ।

तस्कर तस्करी खुलेआम कर रहे है ,दिन-प्रतिदिन लगती जा रही सड़को पर तस्करी का मेला
देखा जाए तो तस्करो की तस्करी का मेला सड़कों पर सुबह से ही लग जाती है । बहुत निडर के साथ तस्करी के समानो को पहुंचाने में वह कामयाब रहते है । जिससे दिन- प्रतिदिन इन तस्कर निडर होते जा रहे है । जिससे कि क्षेत्रा में तस्करी की लगन बढ़ रही है ।

तस्कर तस्करी का कहां – कहां लगती है फ़ेरा

तस्करो की तस्करी ले जाने का फेरा ठूठीबारी , मरचहवा, लक्ष्मीपुर , टेढ़हवा , राजाबारी आदि जगहों पर होता है तस्करी का खेल ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories

You may have missed