Crime Sach News

Just another WordPress site

शिक्षा अधिकार कानून का सफल क्रियान्वयन हो

1 min read

कप्तानगंज कुशीनगर
शिक्षा अधिकार कानून होने के बावजूद भी आज हजारों की तादात में बच्चे शिक्षा से वंचित होकर बाल श्रम अथवा अन्य कार्यों में लिप्त होने का समाचार प्राप्त हुआ है ।
प्राप्त विवरण के अनुसार सभी बच्चों को शिक्षा मिले अनिवार्यता के लिएशिक्षअधिकारकानूनपारित हुआ और पूरे देश में लागू हुआ लेकिन बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि आज भी शिक्षा अधिकार कानून का सफल क्रियान्वयन नो होने के कारण हजारों की संख्या में बच्चे बाल श्रम के शिकार होकर श्रम शोषण के शिकार हैं ।जबकि बाल संरक्षण अधिकार अधिनियम के अनुसार बच्चों के हित में अनेक कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं जिससे बच्चे लाभान्वित हो लेकिन सिस्टम में कहीं न कहीं कई खामियां होने के कारण बच्चों को बाल अधिकार अधिनियम, शिक्षा अधिकार कानून का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जिम्मेदारों का कहना है कि एक जगह से बच्चों को हटाया जाता है तो वह मां-बाप के निष्क्रियता के कारण दूसरे जगह बच्चे बाल श्रम के लिए चले जाते हैं ,जिम्मेदार सूत्रों के अनुसार ही कुछ बच्चे मजबूरी बस कार्य करते हैं तो कुछ बच्चे गिरोहो के शिकार होकर बालश्रम, भिक्षाटन कर रहे है ।लेकिन जिम्मेदार लोगों का मानना है कि यदि मां बाप के प्रति सख्ती बरती जाए तो कुछ हद तक बच्चों के शिक्षा में भागीदारी बढ़ सकती है। शिक्षा से वंचित होकर बाल मजदूरी करेगा ऐसे मां-बाप,अभिभावको को स्थानीय स्तर पर मिलने वाले जनकल्याणकारी योजनाओं से वंचित कर दिया जाएगा ।अर्थात ऐसे अभिभावकों को राशन कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड ,पेन्शन,आवास की सुविधाएं नहीं दी जाएगी ।जिससे भयभीत होकर अभिभावक अपने बच्चों को शिक्षा के लिए भेजने पर मजबूर होंगे ।बचपन बचाओ आंदोलन लगातार बच्चों को बाल श्रम से हटाकर शिक्षा से जोड़ने, रेप मुक्त भारत का निर्माण, बाल यौन शोषण व हिंसा तथा बाल व्यापार के विरुद्ध जागरूकता लाने के लिए अलख जगा रहा है। बचपन बचाओ आंदोलन सभी बुद्धिजीवी वर्ग के लोगों से अपील करता है के देश के बच्चो के भविष्य को संवारने के लिए, बाल मजदूरी को पूर्ण समाप्ति,रेप मुक्त भारत का निर्माण ,बाल यौन शोषण,हिसा, बाल व्यापार के विरुद्ध जागरूकता लाने के लिए एकजुट होकर पहल करना चाहिए ।जिसने बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके और बालमित्र समाज का निर्माण हो, देश तरक्की के पथ पर अग्रसर हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Categories

You may have missed